चाँद से जुड़े 40 अनोखे तथ्य। Moon Facts in Hindi

चाँद धरती की एकमात्र पाकृतिक उपग्रह है। ऐसा माना जाता है लगभग करोड़ो साल पहले “थैया” नाम का उल्का पिंड पृथ्वी से टकराने के वजह से पृथ्वी का कुछ हिस्सा टूट कर अलग हो गया था, जिससे चांद की उत्पति हुई। आइये आज जानते है चाँद से जुड़े ऐसे ही कुछ अन्होखा, कुछ रौचक तथ्य। Moon facts in Hindi.



Moon Facts in Hindi
Moon Facts in Hindi

 

चाँद से जुड़े 40 अनोखे तथ्य।

Moon Facts in Hindi

1. चाँद (Moon) पृथ्बी का एकमात्र उपग्रह है और यह सौरमंडल का पांचवा सबसे बड़ा प्रकृतिक उपग्रह है।

 

2. चंद्रमा और पृथ्बी के मध्य की दूरी 3,84,403 किलोमीटर है।

 

3. चांद पृथ्वी के परिक्रमा करने में 27.3 दिनो का वक़्त लेता है।

 

4. चांद पर बात करना संभव नहीं है क्योंकि वहां पर हवा नहीं है।

 

5. चांद अपने अक्ष पर 1.022 किलोमीटर प्रति सेकंड की रफ़्तार से घूमता है, जबकि धरती सिर्फ 465 मीटर प्रति सेकंड की रफ्तार से घूमती है।

 

6. चांद पर अभी तक सिर्फ 12 लोग ही गए हैं। पिछले 42 सालों में चांद पर कोई भी आदमी नहीं गया।

 

7. चंद्रमा धरती से हर साल 3.78 सेंटी मीटर दूर होता जा रहा है।

 

8. चाँद पर पहुँचने वाले सबसे पहले वैज्ञानिक थे नील आर्मस्ट्रॉन्ग (1969) और सबसे आखिर में पोहोचने वाले वैज्ञानिक थे जीन सरनन (1972).

 

9. पृथ्वी पर होने वाले ज्वार भाटा, चंद्रमा के गुरुत्वाकर्षण की वजह से ही होते हैं।

 

10. चांद आकर में प्लूटो से भी बड़ा है।

 

11. बृहस्पति के उपग्रह “lo” के बाद चांद दूसरा सबसे अधिक घनत्ववाला उपग्रह है।




12. चांद दिखने में तो गोल है लेकिन वो गोल नहीं है। चांद असल में अंडे के आकार का है।

 

13. पृथ्बी से हमेशा चांद का सिर्फ एक हिस्सा ही दिखाई देता है। और बाकी का हिस्सा पृथ्वी से अभी तक कोई देखी नहीं पाया और ना ही भविष्य में कभी कोई देख पाएगा।

 

14. पृथ्बी के तरह चांद पर भी भूकंप आते हैं लेकिन पृथ्बी की तरह चांद पर कोई tectonic plate नहीं है।

 

15. चांद का क्षेत्रफल अफ्रीका क्षेत्रफल के बराबर है।

 

16. अगर चांद अदृश्य हो जाए तो पृथ्बी पर दिन सिर्फ 6 घंटे का रह जाएगा।

 

17. जिस वक्त धरती पर चंद्रग्रहण होता है उस वक्त चांद पर सूर्य ग्रहण होता है।

 

18. 95 km/h की गति से कार से चाँद तक पहुंचने के लिए आपको लगभग 6 महीने का वक़्त लगेगा।

 

19. सूरज से निकलती रेडिएशन की वहज से चांद पर लगाए गए अमेरिकन फ्लैग का रंग सफेद हो चुका है।

 

20. अगर आप धरती की इंटरनेट स्पीड से परेशान हो चुके हैं तो चांद पर चले जाइए। वहां पर आपको 19 Mbps की इंटरनेट स्पीड मिल जाएगी। लेकिन बात यह है कि आप वहाँ तक जाओगे कैसे।

 

21. वर्ष 2013 के एक सर्वे के अनुसार साथ प्रतिशत अमेरिकंस का मानना है कि चंद्रमा पर लेंडिंग सिर्फ एक धोखा है।

22. जब अंतरिक्ष यात्री “”एलन सैपर्ड”” चांद पर थे तब उन्होंने एक गोल्फ़ बॉल को हिट किया था जो कि लगभग 800 मीटर दूर तक गया था।

 

23. चंद्रमा की गुरुत्वाकर्षण बल बहुत ही धीमी है, अगर धरती पर आपका वजन 7 किलो है तो चांद पर आपका वजन 10 किलो होगा।

 

24. Apollo अंतरिक्ष यान चांद से वापस आते समय कुल 296 चट्टानों के टुकड़े साथ लेकर आए थे, जिनका वजन था 382 किलोग्राम।

 

25. हमारे धरती से आसमान हमेशा नीला ही दिखाई देता है लेकिन चांद से आसमान नीला नहीं बल्कि काला दिखाई देता है।

 

26. Apollo – 11 अंतरिक्ष यान का चंद्रमा लेंडिंग के समय बनाया गया असली वीडियो टेप नष्ट हो गया था। यह गलती से दोबारा इस्तेमाल किया गया था।

 

27. वर्ष 2008 में भारत ने हीं पहली बार चांद पर पानी की खोज की थी और यह पॉइंट में अपने Facts about India के पोस्ट में भी बताया है।

 

28. वर्ष 2004 के बाद से जापान, चीन, भारत, अमेरिका और यूरोप ने चाँद पर शोध करने के लिए अपने अपने अंतरिक्ष यान भेजें।

 

29. जब चांद पर सूरज की किरणें पड़ती है तब चांद के एक हिस्से का तापमान 123℃ तक पहुंच जाता है जबकि दूसरे हिस्से का तापमान 153℃ तक गिर जाता है।

 

30. चांद पर इंसान द्वारा छोड़े गए 96 बैग्स ऐसे हैं जिनमें मल, मूत्र और उल्टियां हैं।

 

31. चांद पर लगभग 1,81,400 किलो का मानव निर्मित मलवा पड़ा हुआ है जिनमें ज्यादातर अंतरिक्ष यान और दुर्घटनाग्रस्त कृत्तिम उपग्रह ही है।

 

32. बैज्ञानिको का मानना हैं के आज से लगभग 450 करोड़ साल पहले ‘ थैया ‘ नाम का उल्का पिंड पृथ्वी से टकराने के वजह से पृथ्वी का कुछ हिस्सा टूट कर अलग हो गया था, जिससे चांद की उत्पति हुई।

 

33. क्या आप को पता है चांद पर मौजूद काले धब्बों को चीन में मेढ़क कहा जाता है।।

 

34. चन्द्रमा की सबसे उंची चोंटी है मानस हुयगोनस। इसकी लंबाई तक़रीबन 4700 मीटर है।

 

35. यह तो आपको पता ही होगा के चांद की अपनी कोई रोशनी नहीं है, बल्कि यह रोशनी तो सूरज से आने वाली रोशनी का प्रभाव होता है।

 

36. नील आर्मस्ट्रांग जब पहली बार चांद पर चले थे, तो उनके पास Wright Brothers के पहले हवाई जहाज का एक टुकड़ा था।




37. यह शायद आपको पता नही होगा बर्ष 1950 के दशक के दौरान अमेरिका ने परमाणु बम से चंद्रमा को उड़ाने की योजना बनाई थी।

 

38. नील आर्मस्ट्रोग ने चाँद पर जब अपना पहला कदम रखा तो उससे जो निशान चाँद की जमीन पर बना वह अब तक है और अगले कुछ लाखों सालो तक ऐसा ही रहेगा, क्योंकि चांद पर हवा ना होने के वजह से यह निशान अगले कई सालों तक सही सलामत रहेगा।

 

39. चाँद का सिर्फ 59 प्रतिशत हिस्सा ही धरती से दिखता है।

 

40. अमेरिकी सरकार ने चांद पर आदमी भेजने और ओसामा बिन लादेन को ढूंढने में बराबर टाइम और पैसा खर्च किया 10 साल और 100 बिलियन डॉलर।।

 

तो कैसा लगा आपको चाँद से जुड़े यह सब रौचक तत्थ जान कर। (Moon facts in Hindi) अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूले।।

 

Thank You

Share Now

One Comment

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!