जानिये Insurance के बारे में A 2 Z। Insurance in Hindi

Insurance in Hindi

 ‘Insurance यानी बीमा’ यह एक ऐसा word है जो आपने कभी न कभी सुना ही होगा। क्योंकि आजकल हर कोई अपना  या फिर आपने पसंदीदा चीजों का बीमा (Insurance) जरूर करवाता है। छोटे-मोटे दुकानदार से लेकर buisness man, नॉकरी करनेवाले लोग हर कोई (Insurance in Hindi) बीमा करवाता है और करना भी चाहिए।

लेकिन बोहुत से ऐसे लोग है जो Insurance के बारे ठीक से समझ नही पाते और confuse हो जाते है यह सोच कर की कोन से ले, कोन सा ना ले। या फिर किस तरह के बीमा (Types of Insurance policy) लेने से अधिक फायदा होगा।।

इसलिए आज मैं आपको बीमा (Insurance in Hindi) से जुड़े कुछ basic और कुछ महत्वपूर्ण (important) बातें बताने जा रहा हु। शायद इससे आपके dought पूरी तरह से clear हो जायेंगे।

Insurance in Hindi
Insurance in Hindi

जानिये बिमा क्या है ?

   What is Insurance in Hindi ??

सबसे पहले जान लेते है क्या है बिमा, What is Insurance ?? देखो अगर सीधे शब्दों में बोला जाये तो Insurance एक ऐसी बेबस्थ्या है जिसमे कोई भी बिमा कंपनी (insurance company) आपके किसी भी प्रकार के नुकसान जैसे बीमारी, दुर्घटना या फिर मृत्यु हो जाने पर आपको या आपके परिबार के किसी दूसरे सदस्य को आर्थिक रूप से सहायता देने की पूरी गारेंटी देता है।

जैसे आपने अगर खुद का जीवन बीमा यानि Life Insurance करवाया हुआ है और अगर आपके साथ कोई दुर्घटना हो जाती है तो जीवन बीमा कंपनी आपके नुकसान की पूरी भरपाई करता है आपके policy के rate और company के terms and conditions के हिसाब से। इसलिए आपको किसी भी कंपनी के insurance policy लेने से पहले कंपनी के terms and conditions को अच्छे से समझ लेना चाहिए। जितनी ज्यादा amount की insurance policy आप लेते है उतनी ही ज्यादा आपको cover मिलता है।

आजकल लगभग हर चीजों की Insurance करवाई जाती है। जिसमें policies के rate और rules भी अलग-अलग होते हैं। अपनी पॉलिसी बाजार बाजार का नाम तो सुना ही होगा अगर आप अलग-अलग कंपनी उसके पॉलिसीस को को पॉलिसीस को को उसके पॉलिसीस को को पॉलिसीस को को चेक करना चाहते हैं तो policybazaar.com  मैं जा कर कर किसी भी कंपनी इसके बीमा पॉलिसी को चेक कर सकते हैं और साथ ही साथ दूसरे कंपनी उसके पॉलिसी को भी कंपेयर पॉलिसी को भी कंपेयर कर सकते हैं।

बीमा के प्रकार (Types of Insurance in Hindi)

चलिए अब बात कर लेते हैं Insurance यानी बीमा कितने प्रकार के होते हैं। Insurance कई तरह के होते है, जैसे Life Insurance मतलब जीवन बीमा, Health Insurance मतलब स्वास्थ्य बीमा, vehicle Insurance मतलब बाहन बीमा, accidental Insurance मतलब दुर्घटना बीमा, Home Insurance मतलब गृह बीमा, Travel Insurance मतलब यात्रा बीमा… और इन सभी के फायदे भी अलग-अलग होते हैं। इन सब बिमाओ में से सबसे प्रचलित है “जीवन बीमा” (Life Insurance)।

चलिए एक-एक करके इन सब के बारे में थोड़ा-बहुत जान लेते हैं….

1. Life Insurance in Hindi यानि जीवन बीमा योजना :-

जीवन बीमा (Life Insurance) अधिकतर लोग अपने परिवार के लिए ही करवाते हैं, ताकि उनके जाने के बाद उनके परिवार को Financial support मिल सके। इस Policy में क्या होता है कि जो भी इंसान इस Policy को लेता है उनकी मृत्यु हो जाने पर उनके परिवार के सदस्य या फिर उनके द्वारा Nominee की गई व्यक्ति को Policy की payment, policy के term’s & conditions के हिसाब से दे दिया जाता है।

2. स्वास्थ्य बीमा योजना (Health or Medical Insurance in Hindi) :-

इस Policy की खास बात यह है कि अगर आपने अपना स्वास्थ्य बीमा (Health or Medical Insurance in Hindi) करवाते हो तो जब आप बीमार पड़ जाओगे तब आप के ऊपर होने वाले Hospital के सारे खर्चे “including Operation” बीमा कंपनी देती है। इस तरह की Policy में एक लिमिटेड amount जमा की जाती है। और इसे हर साल Renew भी करना पढता है।

Health Insurance की एक disadvantage यह भी है कि  अगर आप एक साल के लिए यह policy एक fixed amount में लेते हो और अगर आपका उस साल में कोई भी बीमारी ना हो तो बिमा कंपनी आपको कोई भी पैसा वापस नही करनेवाला। और अगले साल के आपको फिर से वही amount pay करके policy को renew करना पड़ेगा। लेकिन फिर भी यह policy लेना हर इंसान के लिए बोहुत ही जरुरी है, इससे आपको फायदा ही होगा। क्योंकि आज के ज़माने में कब किसको क्या बीमारी लग जाये कुछ कह नही सकते।

3. वाहन बीमा योजना (Vehicle / Auto Insurance in Hindi) :-

सच कहूं तो Vehicle यानि Auto Insurance भी उतना ही जरुरी है जितना की जीवन बीमा (Life Insurance) और स्वास्थ्य बीमा (Health Insurance)। क्योंकि आज कल शहरो में रहनेवाले लगभग हर किसी के पास Car या फिर Motorcycle/bike होती ही है। और अगर आपके पास भी कोई Car या फिर Motorcycle/bike है तो उसका Insurance करवाना जरुरी हो गया है।

क्योंकि कुछ कह नही सकते कब क्या हो जाये, कभी-भी आपको के गाड़ी का accident हो सकता है। या फिर आपकी Car चोरी हो सकती है। ऐसी अबस्था में अगर आपने अपनी गाड़ी की Policy ली हुई है तो Insurance Company आपको, आपके गाड़ी को ठीक करवाने के लिए या फिर आपके नुक्सान की भरपाई के लिए Policy के नियोमो के अनुसार मदत करती है।

लेकिन कुछ वाहन बीमा योजना में Third Party पालिसी भी की जाती है जिसमें गाड़ी चलने वाले ड्राईवर या पैदल चलने वाले लोगों का Insurance Claim कर सकते हैं।

4. दुर्घटना बीमा योजना (Accidental Insurance in Hindi) :-

Accidental Insurance Policy करवाने का सबसे बड़ा लाभ यह है की अगर आपका कोई दुर्घटना हो जाता है या फिर भगबान ना करे आप बिकलांग हो जाते हो, तो आपको कोई भी खर्च उठाना नही पड़ेगा। आपके policy के नियोमो के अनुसार बिमा कंपनी (Insurance Company) आपका पूरा खर्च उठती है।

5. गृह बीमा (Home Insurance in Hindi) :-

घर का बीमा यानि Home Insurance में जो Policy किया जाता है उसमें आपके घर और घर के पूरे सामान और Structure के अनुसार Policy बनायीं जाती है। इसमें Insurance Company घर का या घर के सामान दोनों चीज़ो के नस्ट (damage) होने पर आपको नुकसान की भरपाई करती है।

यह बीमा घर के नुकसान जैसे घर के गिर जाने, कोई दुर्घटना हो जाने, सामान के चोरी हो जाने, आग लग जाने या किसी भी ऐसी असुविधा में काम आता है।

इन सब Insurancy Policy के अलाबा और भी Policy होती है जैसे यात्रा बीमा (Travel Insurancy), किसान बीमा (Farmer Insurancy), पालतू जानवरों का बीमा (Pet Insurance), विवाह के लिए बीमा (Marriage Insurance) ।।

यह भी पड़े :-

समुद्री बीमा क्या है और कोन करवाते है ?? Marine Insurance in Hindi

आशा करता हु आपको इस Article से कुछ-न-कुछ मदत जरूर मिलेगी।।।। अगर आप चाहे तो इस Article को अपने दोस्तों के साथ भी Share कर सकते है। अपने कीमती वक़्त निकाल कर पढ़ने के लिए धन्यबाद।।।

Share Now

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!